थोडा हल्का - जरा हटके (हास्य वयंग्य )

Shayri, jokes, chutkale and much more...

251 Posts

80111 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 355 postid : 290

एक साल का फल या हनुमान जी का प्रसाद – ब्लॉगर ऑफ द वीक

Posted On: 5 Mar, 2011 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

आज ही सुबह मेल खोला तो देखा जागरण जंक्शन वालों का मेल आया था कि आप इस हफ्ते के सबसे ज्यादा देखे जाने वाले यानि मोस्ट व्यूड ब्लॉगर ऑफ द वीक बने हैं. आंखों पर विश्वास नहीं हुआ इसलिए दुबारा मुंह धोकर आया और फिर देखा लेकिन था वह सच. जागरण के होम पेज पर नीचे की तरफ अपना फोटो देख मेरा मन प्रसन्न हो गया. हनुमान जी की कृपा से मुझे इस ब्लॉग पर सबसे ज्यादा हिट्स मिले थे.


Most-Viewed-Blogger-Imageअगर मुझे पता होता कि हनुमान चालिसा का इतना प्रभाव होगा कि पूरे एक वर्ष बाद मुझे पहली बार मंच पर यह दर्जा मिलेगा तो मैं कब का हनुमान जी का भक्त बन गया होता. खैर, इसमें जितना हाथ हनुमान जी का है उतना ही अन्य यूजर्स और पाठकों का भी है जिन्होंने मुझे मोस्ट व्यूड ब्लॉगर ऑफ द वीक बनाया.


इस मंच के साथ मैं काफी दिनों से जुड़ा हूं या यूं कहें शुरुआत से ही जुड़ा हूं. कुछ थोडा हल्का – जरा हटके लिखने की चाह के साथ इस मंच से जुड़ा और उपर से दैनिक जागरण का नाम फ्री में मिला तो खुशी दोगुनी होनी ही थी. ब्लॉगस्टार कॉंटेस्ट के दौरान काफी हाथ-पांव मारे पर कोई फायदा ना हुआ. पर हिम्मत नहीं हारी और लिखते ही गए. लिखते क्या गए जो नेट पर बढ़िया या मनोरंजक मिला उसे आप लोगों तक पहुंचाया. कभी फोटो तो कभी शायरी हमेशा पाठकों तक कुछ हास्य और मनोरंजक साम्रगी पहुंचाने की कोशिश की और आगे भी करता रहूंगा.


इस मंच से जुड़े कई दोस्त भी मिले. राजकमल और ऑलराउंडर सरीखे मित्रों ने हर पोस्ट में प्रोत्साहन की घुट्टी दी तो आर के खुराना और निशा मित्तल जैसे अनुभवी लेखकों ने भी आगे बढ़ने का दम दिया. कुछ और मित्र थे जो अब यदा-कदा ही मंच पर दिखते हैं लेकिन पहले हमेशा हर ब्लॉग पर कमेंट करते ही थे जैसे रजिया जी, निखिल पांडेय जी, अजय झा जी, अबोध बालक और मनोज जी.


पर खुशी है कि किसी मंच पर तो हमें खुश होने का इतना बड़ा मौका मिला. जागरण जंक्शन टीम और आप सभी पाठकों को इस स्तर तक पहुंचाने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद.

| NEXT



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 2.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

1137 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Smithk465 के द्वारा
October 26, 2016

ही तो आल, हाउ इस एवरीथिंग, ई थिंक एव्री ओने इस गेटिंग मोरे फ्रॉम थिस साइट, एंड योर व्यूज eeedcgdgcgdgabka

Smithe478 के द्वारा
October 26, 2016

तो परफरसे, हाउ दो यू दो आ सर्च फॉर इनफार्मेशन साइट्स तहत फिट व्हाट ई वांट तो चेक आउट? डस अन्य बॉडी हैवे लीर्नेद हाउ तो ब्राउज थ्रू ब्लोग्स एंड फ़ोरम्स बी कंटेंट और एनीथिंग तहत न ब्लॉग राइटर? . gcgfeaegecekegee

Lynn के द्वारा
June 9, 2016

Taking the ovveeirw, this post hits the spot

    Eternity के द्वारा
    June 9, 2016

    It’s a pleasure to find such ratinoality in an answer. Welcome to the debate.

Wilma के द्वारा
June 1, 2011

Never seen a betetr post! ICOCBW

    Caelyn के द्वारा
    June 11, 2016

    I seacehrd a bunch of sites and this was the best.

Clarinda के द्वारा
June 1, 2011

Hey, good to find somenoe who agrees with me. GMTA.

    Jayan के द्वारा
    June 10, 2016

    An inlgltieent point of view, well expressed! Thanks!

Sanjay A Sinha के द्वारा
April 12, 2011

Jai bolo Hanumaan ki ( ab beyimaan ki jai nahi chalegi )

    Lissa के द्वारा
    June 9, 2016

    Hmm, I don’t know if the paper-thin side characters is a problem exclusive to shoujo though. There are more than a few character in – for example – Bleach which have little more to their names than a special move. If yo2&8#u17;re looking to avoid that pitfall though, I recommend anything by Inio Asano: I’m not even sure the man even knows the meaning of paper-thin :)

Ramesh bajpai के द्वारा
March 6, 2011

जय बोलो केसरी नंदन की

    jack के द्वारा
    March 15, 2011

    जय हनुमान जी की…

sdvajpayee के द्वारा
March 6, 2011

 बहुत बहुत बधाई !

Rajkamal Sharma के द्वारा
March 5, 2011

जैक भाई ……नमस्कार ! आप को इस शुक्रवार का सुपरस्टार बनने की बहुत -२ मुबारकबाद ….. मेरे को मुफ्त में प्रचार देने के लिए भी आपका धन्यवाद मेरे भाई ,आपको कमेण्ट तो देने का मन करता है , लेकिन जब पिछले कमेंटो का ही जवाब नही मिलता तो फिर आगे इतनी मेहनत से दुबारा कमेण्ट करने की हिम्मत ही नही पड़ती …… क्योंकि तब यही माँ लेना पड़ता है की या तो उनको आपने पढ़ा नही या फिर हमारी बेकदरी की है उनका जवाब ना देकर के …… फिर से एक बार बधाई

    jack के द्वारा
    March 15, 2011

    वाह राजकमल भाई का बात है. लगता है प्यार और तकरार दोनों एक ही साथ लिख दिए है.. खेर आपके क्षमा चाहेंगे क्योंकि आजकल हमें कभी कभी नेट  पर आने का मौक मिलता है इस कारण आपके कमेंट कभी छुट जाते है पर हम तो हमेशा से ही आपके ब्लॉग पर कमेंट भी करते है और आपके कमॆंटो&ं का जवाब देने की कोशिश करते है.  

    Tawny के द्वारा
    June 9, 2016

    Muchas gracias por la info, la verdad es algo que hay que aprovechar, por algo se dan estas oportunidades, y tb debemos difundir esto, asi estas bendiciones llegan a mas personas. Para el que pregunto cuantos dias se esta en el ccm, mi grupo hace 2 años aproximadamente estuvimos 13 días, pero solo mi grupo, normalmente se estan 21 días, la verdad no se de que depende. Ah y para el otro, yo &#2o20;compart2≵ musica con ares, es lo mas facil che, solo tenes que buscar por nombre de grupo y temas ja. Saludos a todos

वाहिद काशीवासी के द्वारा
March 5, 2011

जैक साहब, कहा था न बजरंग बलि सदैव ही भक्तों का कल्याण करते हैं.. बधाई हो इस सम्मान पर|

    Sailor के द्वारा
    June 1, 2011

    YMMD with that awnesr! TX

    Kerryn के द्वारा
    June 9, 2016

    Now we know who the sebsinle one is here. Great post!

nikhil pandey के द्वारा
March 5, 2011

जैक आपको बहुत बहुत बधाई .. ऐसे ही लिखते रहे.. हमारी शुभकामनाये और बजरंगबली की कृपा आपके साथ हमेशा है……..


topic of the week



latest from jagran