थोडा हल्का - जरा हटके (हास्य वयंग्य )

Shayri, jokes, chutkale and much more...

251 Posts

80111 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 355 postid : 910

Hindi Shayari: हिन्दी शायरी (बरसात के मौसम में कुछ खास)

Posted On: 22 Aug, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

दिल्ली में इन दिनों बेहतरीन बेहद तेज बरसात हो रही है. इस बरसात के मौसम में तन भीगे और मन में हिचकोले ना पड़े ऐसा हो ही नहीं सकता. कल शाम की बरसात ने दिल को एक बार फिर घुमा दिया. दिल में सोया हुआ शायर तो जागा लेकिन उसकी शायरी को लिख कर मैं लोगों को हंसने का मौका नहीं देना चाहता इसलिए अपने शायर मन की बातों को मैं किसी दूसरे शायर की शायरी से रख दूं. तो हाजिर हैं कुछ विशेष शायरियां.


Love shayari

Hindi ShayariHindi Shayari: हिन्दी शायरियां

किसी की कट रही जिन्दगी, कोई काट रहा जिन्दगी
खुश है वो, जो जी रहा हर पल जिन्दगी


*********************


Hindi Shayari: हिन्दी शायरियां

जब किस्मत ने दरवाजे पर दस्तक दी, वक्त ने उसे वहीं रोक दिया
आज वक्त मेहरबान है ,बस किस्मत ने ही दगा दे दिया


Read: Sad Shayari

*********************

Hindi ShayariHindi Shayari: हिन्दी शायरियां

एक चेहरा लगा खुश करते है दुनिया को
एक चेहरा बना खुश करते है हम खुद को
इंसान तो सबसे बड़ा चित्रकार है
हर पल नई तस्वीर मे ढाल देता है खुद को


*********************

Hindi Shayari: हिन्दी शायरियां

दर्द की बिछा कर बिसात, मुस्करा रहा है कोई
मुस्करा कर गम छुपा रहा है कोई


*********************

Hindi Shayari: हिन्दी शायरियां

राहो में निकले तो रास्ता विरान था,
एक तरफ़ आबादी एक तरफ़ कब्रिस्तान था,
हर विरान कब्र का यहीं बयान था
देख के चल मुसाफ़िर कभी मैं भी इन्सान था.


Read: Funny Hindi Shayari

*********************

Hindi Shayari: हिन्दी शायरियां

कितना दर्द है दिल में दिखाया नहीं जाता,
गंभीर है किस्सा सुनाया नहीं जाता,
एक बार जी भर के देख लो इस चहेरे को,
क्योंकि बार-बार कफ़न उठाया नहीं जाता..


*********************

Hindi Shayari: हिन्दी शायरियां

न गिला किया , न ख़फ़ा हुए , यूँ ही रास्ते में जुदा हुए

न तू बेवफ़ा, न मैं बेवफ़ा , जी गुज़र गया सो गुज़र गया


अगर आपके पास भी कुछ शायरियां हो तो घबराएं नहीं उन्हें मुझसे जरूर शेयर करें.


मेरी पसंदीदा शायरी


Hindi Shayari, Love Shayari in Hindi, Sad Shayari, Hindi Love Shayari, Romantic Shayari, Dosti shayari, Sad Shayari, Funny Shayari , Hindi Shayari, shayari, sad shayari, love shayari, romantic shayari, funny shayari, sms shayari, hindi shayari, urdu shayari, dosti shayari, shayari




Tags:                       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.25 out of 5)
Loading ... Loading ...

1526 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

akash के द्वारा
June 24, 2014

दिल्लगी दोस्तों के नाम नहीं होती; दिलदारी दोस्तों की शान नहीं होती है; कहीं भी रहो, पर रहोगे दिल में मेरे; यही सच्ची दोस्ती की पहचान होती है।

    BertieorBirdie के द्वारा
    June 11, 2016

    What’s it take to become a sublime exnupoder of prose like yourself?

akash के द्वारा
June 24, 2014

बेवफ़ा से प्यार नहीं होता; मरने के बाद इंतज़ार नहीं होता; दोस्ती देख कर करना मेरे दोस्त; हर दोस्त हमारी तरह वफ़ादार नहीं होता।

    Chris के द्वारा
    June 11, 2016

    Haahaahh. I’m not too bright today. Great post!

akash के द्वारा
June 24, 2014

पलकों में आँसु और दिल में दर्द सोया है,हँसने वालो को क्या पता, रोने वाला किस कदर रोया है,ये तो बस वही जान सकता है मेरी तनहाई का आलम,जिसने जिन्दगी में किसी को पाने से पहले खोया है..!!

    Mira के द्वारा
    June 10, 2016

    Taking the ovreivew, this post is first class

    Tawny के द्वारा
    June 11, 2016

    Justement, je cherche à faire des photos qui soient plus que &lq&;o; satisfaisantes&nbspuqraauo;. Hors, cela ne pouvait pas être mieux que juste satisfaisant quand la modèle qui vous a contacté, vous et la maquilleuse, vous déclare quelques heures avant la séance photo que ce que vous faites « ce n’est pas de la photo mais de l’infographie », « que ce n’est pas cela, être photographe » et « que vous n’êtes pas photographe ».

Jayakrishnan Nair के द्वारा
February 1, 2013

घर के दीवारों पेय कौवे आचे नहीं लगते,मुह्फिलिसी में तमाशे आचे नहीं लगते,यह हुस्ने नहीं है बुढ़ापे के लिए,ढलती उम्र में मुहासे आचे नहीं lagtey

Jayakrishnan Nair के द्वारा
February 1, 2013

बरसात देखना है तोह मेरी आँखों में देख,अरे वोह तोह सल्लो में बरसते है,और यह तोह सालो से बरसते hain

    Ziggy के द्वारा
    June 10, 2016

    Great hammer of Thor, that is polwufrley helpful!

Rajkamal Sharma के द्वारा
August 22, 2012

इतनी तो हम को भी है है खबर , हमारे हाल से नहीं हो तुम बेखबर काश हमको भी कुछ तुम्हारी खबर होती तो इस तरह हमारी यह हालत न होती – पत्थरों की चोट क्या होती है हम नहीं है जानते हमने तो फूलों से ज़ख्म खाए है -

    Blondy के द्वारा
    June 11, 2016

    Free knowledge like this doesn’t just help, it promote deramcocy. Thank you.


topic of the week



latest from jagran