थोडा हल्का - जरा हटके (हास्य वयंग्य )

Shayri, jokes, chutkale and much more...

251 Posts

80112 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 355 postid : 950

रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

Posted On: 2 Dec, 2012 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

rahim ke dohe with meaning in hindi

रहीम भारतीय सहित्य जगत के उच्चतम कवि हैं. उनके लिखे दोहे और उक्त्यियों को अगर जीवन में अमल करा जाए तो बहुत फायदा होगा. रहीम के कई दोहे मैं पहले भी लिख चुका हूं और अब हाजिर हैं कुछ अन्य..


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

खीरा सिर ते काटिये, मलियत नमक लगाय।
रहिमन करुये मुखन को, चहियत इहै सजाय॥
अर्थ:
खीरे को सिर से काटना चाहिए और उस पर नमक लगाना चाहिए। यदि किसी के मुंह से कटु वाणी निकले तो उसे भी यही सजा होनी चाहिए।


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

जे गरीब पर हित करैं, हे रहीम बड़ लोग।
कहा सुदामा बापुरो, कृष्ण मिताई जोग॥
अर्थ:
जो गरीब का हित करते हैं वो बड़े लोग होते हैं। जैसे सुदामा कहते हैं कृष्ण की दोस्ती भी एक साधना है।


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

चाह गई चिंता मिटी, मनुआ बेपरवाह।
जिनको कछु नहि चाहिये, वे साहन के साह
अर्थ:
जिन्हें कुछ नहीं चाहिए वो राजाओं के राजा हैं। क्योंकि उन्हें ना तो किसी चीज की चाह है, ना ही चिंता और मन तो बिल्कुल बेपरवाह है।


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

रहिमन देख बड़ेन को, लघु न दीजिये डारि।
जहाँ काम आवै सुई, कहा करै तलवारि॥
अर्थ:
बड़ों को देखकर छोटों को भगा नहीं देना चाहिए। क्योंकि जहां छोटे का काम होता है वहां बड़ा कुछ नहीं कर सकता। जैसे कि सुई के काम को तलवार नहीं कर सकती।


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

जो रहीम गति दीप की, कुल कपूत गति सोय।
बारे उजियारो लगे, बढ़े अँधेरो होय॥
अर्थ:
दीपक के चरित्र जैसा ही कुपुत्र का भी चरित्र होता है। दोनों ही पहले तो उजाला करते हैं पर बढ़ने के साथ-साथ अंधेरा होता जाता है।


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

बड़े काम ओछो करै, तो न बड़ाई होय।
ज्यों रहीम हनुमंत को, गिरिधर कहे न कोय॥
अर्थ:
जब ओछे ध्येय के लिए लोग बड़े काम करते हैं तो उनकी बड़ाई नहीं होती है। जब हनुमान जी ने धोलागिरी को उठाया था तो उनका नाम कारन ‘गिरिधर’ नहीं पड़ा क्योंकि उन्होंने पर्वत राज को छति पहुंचाई थी, पर जब श्री कृष्ण ने पर्वत उठाया तो उनका नाम ‘गिरिधर’ पड़ा क्योंकि उन्होंने सर्व जन की रक्षा हेतु पर्वत को उठाया था|


**********************


रहीम के दोहे अर्थ सहित: Rahim ke Doha with Meaning

माली आवत देख के, कलियन करे पुकारि।
फूले फूले चुनि लिये, कालि हमारी बारि॥
अर्थ:
माली को आते देखकर कलियां कहती हैं कि आज तो उसने फूल चुन लिया पर कल को हमारी भी बारी भी आएगी क्योंकि कल हम भी खिलकर फूल हो जाएंगे।

Kabeer ke dohe with meaning in hindi



Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (32 votes, average: 4.16 out of 5)
Loading ... Loading ...

432 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Lorren के द्वारा
June 11, 2016

Was totally stuck until I read this, now back up and ruignnn.

Bhishm Kumar के द्वारा
December 19, 2012

I shall appriate if you kindly provide complete meaning with bhawarth of the following Rahim ka doha. Rahiman Rahila ki bhali jo parsat chitlai, parsat man maila kare so maida jaljai. Bhishm Kumar Vienna, Austria

    Jalia के द्वारा
    June 11, 2016

    Hi Markus,stimmt, das wäre nicht witzig!Aber ich gehe hoffnungsvoll davon aus, dass ein MacBook Pro im UnGhsdy-iebäuoe unkaputtbar ist!


topic of the week



latest from jagran