थोडा हल्का - जरा हटके (हास्य वयंग्य )

Shayri, jokes, chutkale and much more...

251 Posts

23115 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

Shayari- Shero Sher: हिन्दी शायरी लड़कियों के लिए

Posted On: 20 Jan, 2013 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

शायरी: Hindi Shayari

जहाँ तेरा नक्श-ए-कदम देखतें हैं,
खियाबां खियाबां इरम देखतें हैं
तेरे सर्व कामत से एक कद-ए-आदम ,
क़यामत के फितने को कम देखतें हैं
तमाशा कर ऐ महव-ए-आइनादारी,
तुझे किस तमन्ना से हम देखतें हैं
सुराग-ए- तफ-ए- नाला ले दाग-ए-दिल से,
के शबरौ का नक़्श-ए-क़दम देखते हैं
बना कर फकीरा का हम भेस ‘ग़ालिब’
तमाशा-ए-अहल-ए-करम देखतें हैं


**************************

शायरी: Hindi Shayari

करके अरमानो का कत्ल कांधा देता है कोई
खुद ही रुलाकर उन्हे, रुमाल थमा देता है कोई
यूं तो इंसाफ ख़ुदा का पाता है हर कोई
लेकिन अपनी नज़र मे गिरकर कैसे जी लेता है कोई


**************************

शायरी: Hindi Shayari

कभी ख्याल बगावत का
कभी ख्याल इबादत का
ख्याल अब टूटने लगे
ये तक़ाज़ा है वक्त की शरारत का


***************

शायरी: Hindi Shayari

आज सर्द हवा ने फिर कुछ येसा कर डाला
गरम था अहसास लेकिन दिल जला डाला
यूँ तो नाम उनका जुबां पर नही है
लेकिन मौसम ने याद मे जाम पिला डाला


***************

शायरी: Hindi Shayari

आँसू रोक लिए हमने उसकी विदाई पर,
लेकिन रोता रहा दिल उसकी बेवफाई पर,
हमने कर दिया विदा खुशी से उनको ‘
लेकिन रो रहा है आसमा भी मेरे संग उसकी जुदाई पर

***************


शायरी: Hindi Shayari

दाग लगाकर जो खुद बेदाग हो गए
इल्ज़ाम लगा अब वो थानेदार हो गए
वक्त की सरहद पर खड़े है
दोस्त थे जो अब वो दुश्मन हो गए

हिन्दी शायरी, शायरी हिन्दी में, हिन्दी मनोरंजन, hindi shayari, Sayari, hindi Gazale



Tags:             

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (14 votes, average: 3.21 out of 5)
Loading ... Loading ...

175 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Jailen के द्वारा
June 10, 2016

Great article but it didn’t have evgtryhine-I didn’t find the kitchen sink!

AVINASH के द्वारा
June 28, 2014

shayari

    Egypt के द्वारा
    June 11, 2016

    Woah nelly, how about them applse!




latest from jagran