थोडा हल्का - जरा हटके (हास्य वयंग्य )

Shayri, jokes, chutkale and much more...

248 Posts

79662 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 355 postid : 1003

एक राजा की कहानी- A Story in Hindi

Posted On: 11 Feb, 2013 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

एक राजा ने दूसरे राजा के पास एक पत्र और सुरमे की एक छोटी सी डिबिया भेजी। पत्र में लिखा था कि जो सुरमा भिजवा रहा हूं, वह अत्यंत मूल्यवान है। इसे लगाने से अंधापन दूर हो जाता है। राजा सोच में पड़ गया। वह समझ नहीं पा रहा था कि इसे किस-किस को दे। उसके राज्य में नेत्रहीनों की संख्या अच्छी-खासी थी, पर सुरमे की मात्रा बस इतनी थी जिससे दो आंखों की रोशनी लौट सके।

राजा इसे अपने किसी अत्यंत प्रिय व्यक्ति को देना चाहता था। तभी राजा को अचानक अपने एक वृद्ध मंत्री की स्मृति हो आई। वह मंत्री बहुत ही बुद्धिमान था, मगर आंखों की रोशनी चले जाने के कारण उसने राजकीय कामकाज से छुट्टी ले ली थी और घर पर ही रहता था। राजा ने सोचा कि अगर उसकी आंखों की ज्योति वापस आ गई तो उसे उस योग्य मंत्री की सेवाएं फिर से मिलने लगेंगी। राजा ने मंत्री को बुलवा भेजा और उसे सुरमे की डिबिया देते हुए कहा, ‘इस सुरमे को आंखों में डालें। आप पुन: देखने लग जाएंगे। ध्यान रहे यह केवल 2 आंखों के लिए है।’ मंत्री ने एक आंख में सुरमा डाला। उसकी रोशनी आ गई। उस आंख से मंत्री को सब कुछ दिखने लगा। फिर उसने बचा-खुचा सुरमा अपनी जीभ पर डाल लिया।

यह देखकर राजा चकित रह गया। उसने पूछा, ‘यह आपने क्या किया? अब तो आपकी एक ही आंख में रोशनी आ पाएगी। लोग आपको काना कहेंगे।’ मंत्री ने जवाब दिया, ‘राजन, चिंता न करें। मैं काना नहीं रहूंगा। मैं आंख वाला बनकर हजारों नेत्रहीनों को रोशनी दूंगा। मैंने चखकर यह जान लिया है कि सुरमा किस चीज से बना है। मैं अब स्वयं सुरमा बनाकर नेत्रहीनों को बांटूंगा।’

राजा ने मंत्री को गले लगा लिया और कहा, ‘यह हमारा सौभाग्य है कि मुझे आप जैसा मंत्री मिला। अगर हर राज्य के मंत्री आप जैसे हो जाएं तो किसी को कोई दुख नहीं होगा…



Tags:         

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (9 votes, average: 4.56 out of 5)
Loading ... Loading ...

3447 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

    Eagle के द्वारा
    June 10, 2016

    >TRS, Cré nom de bleu !Mais c’est où chez vous TRS ? La &llcuo; qouiale à bleu » , j’adopte !Et si sur les chantiers j’ai moins de prestance que lamid avec sa théorie de Darmesteter, j’aurai du moins l’avantage de contacts humains, virils et chaleureux.nota: le calepin est traditionnellement au 1/20è (le calepinage étant l’action d’établir un calepin)

    Shirley के द्वारा
    June 9, 2016

    You have to wonder how accurate these reports really are, just dont see many people spending $100 per click or paying for this, just too much downside imo, also imagine the click fraud that is now asetaicosd from such a report, would hate to be a marketer for any of these terms following reports like this.

    Trish के द्वारा
    June 10, 2016

    A protocavive insight! Just what we need!

    Scout के द्वारा
    June 9, 2016

    Which came first, the problem or the sotulion? Luckily it doesn’t matter.

    Maverick के द्वारा
    June 9, 2016

    The November election will have a barrage of attack mail between the Janet candidate, her hubby Tom, and the Van candidate, Bruce Tran, what a waste. I fail to see how either faction has helped the community as a whldA.enorew Do should be recalled due to poor performance and the alarming fact that he does not live in Garden Grove.

    Mildred के द्वारा
    June 10, 2016

    You actually make it seem so easy with your prteintaeson but I find this matter to be actually something which I think I would never understand. It seems too complex and extremely broad for me. I am looking forward for your next post, I’ll try to get the hang of it!

    Satch के द्वारा
    June 11, 2016

    Thanks on behalf of these guidelines. Lone gadget I in addition trust is credit cards providing a 0% interest often appeal to consumers in zilch rate, immediate say-so and stragihtforward on-line keep upright transfers, on the contrary beware of the number one thing that can void your 0% painless streets annual percentage rate and also puzzle you outdated addicted to the meager apartment rapid.

    Idalia के द्वारा
    June 11, 2016

    Thanks for shagnir. Always good to find a real expert.

    Magdelina के द्वारा
    June 10, 2016

    I will be putting this dazlizng insight to good use in no time.

    Kailyn के द्वारा
    June 10, 2016

    That’s a creative answer to a dicfifult question

Bruna के द्वारा
February 14, 2016

Deep thought! Thanks for conigibuttnr.

    Latesha के द्वारा
    June 10, 2016

    Please teach the rest of these internet hoolagins how to write and research!


topic of the week



latest from jagran